• Fri. Apr 12th, 2024

विधायक उमेश कुमार ने लोकसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के नामांकन दाखिल कर की गंगा पूजा

Byआर सी

Mar 22, 2024

हरिद्वार (जितेंद्र कोरी)। खानपुर से निर्दलीय विधायक उमेश ने आज हरिद्वार लोकसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन दाखिल किया। रुड़की से रोड़ शो के साथ उमेश कुमार नामांकन के लिए रोशनाबाद मुख्यालय पहुंचे। इस दौरान उमेश कुमार ने भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों पर निशाना साधा और कहा कि दोनो पार्टियां हरिद्वार के साथ भेदभाव करती चली आ रही हैं। दोनों ही पार्टियों ने नेता प्रवासी पक्षियों की तरह दिल्ली से उड़कर चुनाव में आते हैं और चुनाव जीतकर हरिद्वार की तरफ झांकते भी नहीं। इतना ही नहीं उमेश कुमार ने हरीश रावत, रमेश पोखरियाल निशंक और त्रिवेंद्र सिंह रावत को भी प्रवासी पक्षी बताया। उन्होंने दावा किया कि किसानों की उपेक्षा, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार को मुद्दा बनाकर वो चुनाव मैदान में उतरेंगे और जीत दर्ज करेंगे।

निर्दलीय प्रत्याशी खानपुर के विधायक उमेश कुमार ने आज नामांकन के दूसरे दिन निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में कलेक्ट्रेट रोशनाबाद पहुंचकर अपना नामांकन पत्र दाखिल किया है, उमेश कुमार रुड़की से रोड शो करते हुए कलेक्ट्रेट रोशनाबाद पहुंचे रोड शो के दौरान उमेश कुमार ट्रैक्टर पर सवार थे और ट्रैक्टर को खुद ही चला रहे थे, उमेश कुमार ने इस दौरान भाजपा प्रत्याशी त्रिवेंद्र सिंह रावत पर जमकर हमले बोले और इस लड़ाई को हरिद्वार के आन सम्मान ,स्वाभिमान हरिद्वार को गुलाम बनने से बचाने और यहां से प्रवासियों को वापस भेजने की लड़ाई बताया है, बड़ी संख्या में कार्यकर्ता और गाड़ियों का काफिला उमेश कुमार के साथ चल रहा था हालांकि क्षेत्र में धारा 144 लागू थी इसके बावजूद बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं का रोशनाबाद पहुंचना और प्रशासनिक व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह जरूर खड़ा करता है।

निर्दलीय प्रत्याशी उमेश कुमार का कहना है कि सबसे पहले हमारे हरिद्वार के मान सम्मान स्वाभिमान की लड़ाई है यह हरिद्वार बचाने की लड़ाई है, हरिद्वार के बेरोजगारों के भविष्य को सुरक्षित करने की लड़ाई है, आने वाला समय दूर नहीं है जब यह हमें गुलाम बनाने की ओर बढ़ रहे हैं, हरिद्वार के हर ब्लॉक में भ्रष्टाचार चरम पर है जिला पंचायत में भ्रष्टाचार चरम पर है, 50 परसेंट की खुली लूट है, इस जनपद में आप मुद्दों की बात करें तो किसानों का सबसे बड़ा मुद्दा 80% किसान बाहुल्य क्षेत्र किसान की सबसे ज्यादा दुर्गति अगर है तो इस जनपद में है, तो मुद्दे बहुत सारे हैं लेकिन सबसे पहले उन प्रवासी पक्षियों को यहां से खदेड़ना है जो दिल्ली से उड़कर यहां आते हैं चुगते हैं और उसके बाद यहां से वापस दिल्ली चले जाते हैं फिर 5 साल दिखते नहीं है, वह गुलाम बनाना चाहती हैं कौन सी ऐसी सरकार है जो हरिद्वार को हरिद्वार का हक दे रही है हरिद्वार में जाति प्रमाण पत्र हर साल रिन्यू कराना है रिन्यू करने के लिए आपको घूस देनी है लोगों को मूल निवास का आपका पता नहीं किसान की बेकद्री हो रही है अभी आपदा आई थी आप लोग देख लीजिए आज किसान त्राहिमाम कर रहा है, बिजली के बिलों पर पेनल्टी लगाई जा रही है ट्यूबेल के कनेक्शन काटे जा रहे हैं किसान क्रेडिट कार्ड की रिकवरी के लिए किसानों के घर पर प्रशासन जा रहा है और इससे ज्यादा गुलामी और क्या देखना चाहते हैं,
प्रवासी कौन नहीं है आप मुझे बताइए हरिश रावत जी प्रवासी हैं , त्रिवेंद्र जी प्रवासी हैं, निशंक जी प्रवासी थे आप बताइए कि सांसद को आपने 5 साल अपने बीच देखा, आप बताइए बीजेपी को अपना 10 साल का सांसद जीता हुआ क्यों बदलना पड़ा, क्या कारण रहे कुछ तो कारण रहे होंगे, बदलने के अगर उन्होंने काम किया होता अगर लोगों के बीच में रहकर सब कुछ किया होता तो क्यों बदल जाता,मुकाबला तो सभी से है लेकिन हम लड़ेंगे भी और जीतेंगे भी।

लोग नहीं खुलकर बोलिए जो कह रहे हैं भाजपा प्रत्याशी वही है जिनके खिलाफ मैंने सीबीआई कराई थी हाई कोर्ट से, यह वही है जिनके रांची के घूस कांड के मैंने दस्तावेज दिखाए थे यह वही है जिनके मैंने सूर्य धारा लिंग का खुलासा किया था यह वही है जो संजय गुप्ता के पार्टनर थे जिसने सूर्य धारा से पहले सूर्याधर के आसपास जमीन खरीद ली थी यह वही है जिन्होंने हरियाणा पंजाब के माफिया को 10 शराब की फैक्ट्रियां बॉटलिंग प्लांट यहां लगवा दिए, यह वही पूछ रहे हैं न मुझे तो यह इनसे पूछिएगा यह अपनी जान बचाने के लिए जब सुप्रीम कोर्ट पहुंचे थे तो उस समय आपने जो वहां पर याचिका दायर की थी वह त्रिवेंद्र रावत वर्सेस उमेश कुमार थी तो उन्हें याद आ जाएगा कि कौन उमेश कुमार।

Loading

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: अपने आप भी कुछ लिख ले